Friday , February 26 2021 9:15
Breaking News

अभी – अभी इस देश में हुआ ये बड़ा हमला, मौत का आंकड़ा 32 पर पहुंचा

इराक के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राजधानी में स्थित उसके सभी अस्पताल घायलों के इलाज में जुटे हैं. संयुक्त ऑपरेशंस कमान के प्रवक्ता मेजर जनरल तहसीन अल-खफाजी ने बताया कि पहले आत्मघाती हमलावर ने भीड़ भरे बाजार में हमले से पहले चीख कर कहा कि वह बीमार है.

इस कारण उसके आसपास काफी लोग एकत्र हो गए, फिर उसने विस्फोट किया. दूसरे हमलावर ने उसके तुरंत बाद स्वयं को बम से उड़ा लिया. अल-खफाजी ने कहा, ‘यह आतंकवादी घटना है.

जिसे इस्लामिक स्टेट के स्लीपर सेल ने अंजाम दिया है.’ उन्होंने कहा कि सैन्य अभियानों में मुंह की खाने के बाद इस्लामिक स्टेट अपना अस्तित्व जताना चाहता है.

बगदाद के भीड़भाड़ वाले बाजार में करीब तीन साल में पहली बार आत्मघाती हमला हुआ है. इससे पहले 2018 में तत्कालीन प्रधानमंत्री हैदर अल-अबादी द्वारा आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट पर जीत की घोषणा किए जाने के बाद इसी इलाके में आत्मघाती हमला हुआ था.

अस्थिरता से जूझ रहे इराक की राजधानी बगदाद के व्यस्ततम बाजार में गुरुवार (Thursday) को दो आत्मघाती बम धमाकों में मरने वालों का आंकड़ा 32 पर पहुंच गया है जबकि 110 अन्य घायल हुए हैं.

इराक में समय पूर्व चुनाव कराने की योजना को लेकर उत्पन्न तनाव और आर्थिक संकट के बीच मध्य बगदाद के बाब अल-शरकी कॉमर्शियल क्षेत्र में यह आत्मघाती हमले हुए हैं.

अंतरराष्‍ट्रीय आतंकवादी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट ने इन खूनी हमलों की जिम्‍मेदारी ली है. आईएसआईएस ने एक बयान जारी करके कहा कि उसके निशाने पर शिया मुसलमान थे.

इराक में सेना के जरिए वर्ष 2017 में आईएस को हरा दिया गया था. एक समय में आईएस के आतंकी इराक से सीरिया तक की 88 हजार वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्‍जा करके बैठे हुए थे.

हालांकि आईएस के स्‍लीपर सेल इराक में अभी भी मौजूद हैं. इराक में पिछले 3 साल में यह अब तक का सबसे बड़ा आत्‍मघाती हमला है. इराक के स्वास्थ्य मंत्री हसन मोहम्मद अल-तामिमि ने बताया कि हमले में कम से कम 32 लोगों की मौत हुई है जबकि 110 अन्य घायल हुए हैं.

 

 

Share & Get Rs.
error: Vision 4 News content is protected !!